Menu

ग्रामीण क्षेत्रों में कनेक्‍शन ज्‍यादा, ट्रांसफार्मर की क्षमता कम, इससे अधिकतर समय बिजली आपूर्ति बाधित- तरूण बाहेती

12 months ago 0 0

जिला पंचायत नीमच की साधारण सभा में कांग्रेस नेता व सदस्‍य तरूण बाहेती ने उठाया किसानों व ग्रामीणों से अहम मुद्दा, बोले- बिजली के कई पोल भी गिरे लेकिन लोगों की कोई सुनवाई नहीं,

पेयजल की भी गंभीर समस्‍या- जिले में आंगनवाड़ी भवन निर्माण, फसल बीमा योजना, खाद वितरण व्‍यवस्‍था सहित अन्‍य जनहितैषी मुद्दों को भी प्रमुखता से उठाया और मांगा जवाब

नीमच। ग्रामीण क्षेत्रों में बिजली कनेक्‍शन ज्‍यादा है लेकिन ट्रांसफार्मर की क्षमता कम है। इसी कारण ग्रामीण क्षेत्रों में अधिकतर समय बिजली आपूर्ति बाधित होती है। बिजली के कई पोल भी गिरे हुए हैं लेकिन ग्रामीणों की सुनवाई नहीं हो रही है और बिजली आपूर्ति बाधित होती रहती है। ग्रामीण क्षेत्रों में पेयजल की भी गंभीर समस्‍या गहरा गई है। किसानों व ग्रामीणों के हित में यह मुद्दा जिला पंचायत सदस्‍य व कांग्रेस नेता तरूण बाहेती ने जिला पंचायत नीमच की साधारण सभा में शुक्रवार को उठाया और इस समस्‍या को प्रमुखता से हल करने की बात कही। जिला पंचायत की साधारण सभा शुरू हुई तो कांग्रेस नेता व सदस्‍य तरूण बाहेती ने ज‍नहितैषी व आमजनता से जुड़े विषयों की झड़ी लगा दी। श्री बाहेती ने किसानों की यूरिया व खाद वितरण की समस्‍या को उठाते हुए कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में सहकारी समितियों के माध्‍यम से खाद वितरण की व्‍यवस्‍था सुधारी जाए और अनिवार्य रूप से किसानों को नजदीकी समितियों व केंद्रों से यूरिया व खाद का वितरण सुनिश्चित किया जाए। उन्‍होंने कहा कि फसल बीमा योजना के लाभान्वित किसानों की सूची बैंकों एवं सहकारी समितियों के बाहर सार्वजनिक स्‍थान पर चस्‍पा की जाए। इस पर कृषि विभाग के अधिकारियों ने जल्‍द जानकारी जुटाने के बाद सूची चस्‍पा करने व खाद वितरण व्‍यवस्‍था में सुधार की जानकारी दी।श्री बाहेती ने संबल योजना राशि वितरण पर नाराजगी जताते हुए कहा कि संबल योजना में कई लोगों की राशि 2-3 साल से अधिक समय से अटकी हुई है और उन्‍हें योजना का लाभ नहीं मिल रहा है एवं वे राशि से वंचित है जबकि नए आवेदकों को योजना में राशि जारी की जा रही है। इस विसंगति को दूर किया जाए और पात्र लोगों को राशि जारी की जाए। इसमें भ्रष्‍टाचार की आशंका है।कांग्रेस नेता व जिपं सदस्‍य श्री बाहेती ने सीएमएचओ डॉ एसएस बघेल व आरएमओ डॉ मनीष यादव से जिले में लंबे समय से एक स्‍थान पर पदस्‍थ स्‍वास्‍थ्‍य विभाग के अधिकारियों व कर्मचारियों की सूची उपलब्‍ध कराने को कहा। साथ ही दो टूक शब्‍दों में कहा कि लंबे समय से पदस्‍थ अधिकारियों व कर्मचारियों के कारण भ्रष्‍टाचार बढ़ रहा है और स्‍वास्‍थ्‍य सेवाएं प्रभावित हो रही है।कांग्रेस नेता व जिपं सदस्‍य श्री बाहेती ने साधारण सभा में ग्‍वाल तालाब से मिट्टी खुदाई का कार्य बेहद कम राशि में दिए जाने पर नाराजगी जताते हुए मामले की जांच की मांग की। इस पर सीईओ गुरूप्रसाद ने सभी मामलों को प्रमुखता से नोट किया और जांच के संबंध में उचित आदेश व कार्यवाही करने का आश्‍वासन दिया। बैठक में सभी विभाग के प्रमुख अधिकारी विशेष रूप से मौजूद रहे।

स्थाई समितियों के गठन में देरी पर उठाए सवाल

जिपं सदस्‍य श्री बाहेती ने जिला पंचायत की समितियों व उप समितियों के गठन में देरी पर भी गंभीर सवाल खड़े किए। उन्‍होंने साधारण सभा में पूछा कि समितियों के गठन में देरी में वैकल्पिक स्थिति क्‍या है, जो विभाग समितियों के लिए नियत है, उन विभागों में बजट अनुमोदन कैसे होता है और कार्यों की समीक्षा कैसे होती है। इस सवाल पर जिम्‍मेदारों की ओर से कोई संतोषजनक जवाब नहीं दिया गया।

7 माह बाद हुई साधारण सभा पर जताया विरोध, हर माह करने की मांग उठाई-जिला पंचायत नीमच की साधारण सभा की बैठक 16 जून 2023 को करीब 7 माह बाद हुई। लंबे समय बाद हुई साधारण सभा को लेकर कांग्रेस नेता व जिपं सदस्‍य श्री बाहेती ने सख्‍ती से विरोध दर्ज कराया और जिपं अध्‍यक्ष व सीईओ से साधारण सभा की बैठक हर माह कराने की मांग की ताकि इसमें जनहित के मुद्दों पर चर्चा कर उन्‍हें पारित किया जा सके।

साधारण सभा में यह भी मुद्दे उठाए– ग्रामीण क्षेत्रों में पेयजल के लिए कितनी मोटरें लगी हुई है। ट्यूबवेल के पाईंट कितने है। इसकी जानकारी सार्वजनिक की जाए और यदि कमी है तो इन्‍हें सुधरवाए जाए।- जिले में अमृत सरोवर योजना की स्थिति से स्‍पष्‍ट की जाए और अधिक लोगों को इसका लाभ दिया जाए।

– जिला पंचायत के वार्डों में जारी निर्माण कार्यों की जानकारी संबंधित वार्ड के निर्वाचित सदस्‍यों को दी जाए। साथ ही रूके हुए कार्यों की जानकारी मय कारण के सार्वजनिक की जाए।

– निर्विरोध निर्वाचित ग्राम पंचायतों के लिए राशि आई या नहीं। यदि नहीं आई तो राशि कब आएगी और इससे क्‍या कार्य होंगे।- जिले में वॉटर शेड मिशन के तहत जारी कार्य और उनकी मॉनीटरिंग की क्‍या स्थिति है, सदस्‍यों के सामने पारदर्शिता के साथ जानकारी रखी जाए।

Leave a Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *