Menu

प्रदेश के पूर्व सीएम का सुवासरा मंदसौर विधानसभा दौरा

1 year ago 0 4

पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह ने कार्यकर्ताओं को दिए पांच मूल मंत्र संपर्क, संवाद, समन्वय, सामंजस्य व सकारात्मक सोच सीएम ने सुवासरा और मंदसौर विधानसभा क्षेत्र के कार्यकर्ताओं से किया सीधा संवाद। किया

(यशस्वी दुनिया)

सुवासरा/मंदसौर। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री राज्यसभा सांसद विधानसभा चुनावों की तैयारी को लेकर मंदसौर जिले की सुवासरा विधानसभा पहुंचे जहां वे शामगढ़ में मंदसौर जिला कांग्रेस कमेटी द्वारा आयोजित कांग्रेस के मंडल सेक्टर अध्यक्षों की बैठक में शामिल हुए।

पूर्व सीएम द्वारा शामगढ़ में रात गुजारने को लेकर कार्यकर्ता उत्साहित नजर आए, कार्यकर्ताओं का कहना था शामगढ़ में इससे पहले कभी किसी भी दल के इतने बड़े नेता ने रात नहीं गुजारी। पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह का जमीन को टटोलने का या पुराना नुस्खा है, वे दौरे के दौरान छोटी से छोटी जगह में रात्रि विश्राम जरूर करते हैं जिससे उन्हें जमीन की हर तरह की जानकारी आसानी से मिल जाती है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने सुवासरा विधानसभा क्षेत्र के मंडल सेक्टर अध्यक्षों की बैठक में राजनीतिक सफलता के 5 मंत्र दिए संपर्क, संवाद, समन्वय, सामंजस व सकारात्मक सोच।

उन्होंने कहा राजनीति में बिना संपर्क के ना चुनाव जीता जा सकता है और ना आगे बढ़ सकते हैं। इसीलिए सतत संपर्क जारी रखिए। उन्होंने कहा संपर्क की सार्थकता संवाद से होती है किसी भी सूरत में आपसी संवाद बंद नहीं होना चाहिए। बात नहीं करने से किसी भी बात का हल नहीं निकलेगा इसलिए आपसी संवाद बहुत जरूरी है। तीसरा मंत्र उन्होंने दिया समन्वय कहा आपसी तालमेल बनाए रखना अच्छे संगठक और अच्छे राजनीतिज्ञ की निशानी है इसलिए नेता, कार्यकर्ता और संगठन में समन्वय बनाए रखने की आवश्यकता है। चौथा मंत्र उन्होंने बताया सामंजस्य, आपसी विरोधियों के बीच सामंजस्य स्थापित करते हुए आम सहमति बनाना एक राजनीतिक कला होती है जो आज के दौर में सबसे महत्वपूर्ण है। पांचवा और महत्वपूर्ण मंत्र उन्होंने दिया सकारात्मक सोच, उन्होंने कहा हमारे दिलों दिमाग में एक ही चीज रहना चाहिए कि चाहे जो परिस्थिति हो हम उसका सामना करते हुए चुनाव की तैयारी करेंगे और जीत हासिल करेंगे इसी सकारात्मक सोच के साथ हम मध्यप्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनाएंगे।पूर्व मुख्यमंत्री बाद में सुवासरा विधानसभा के समस्त कार्यकर्ताओं की बैठक में शामिल हुए जहां उन्होंने कार्यकर्ताओं को खुला मंच दिया, महिला कार्यकर्ताओं को मंच पर आमंत्रित किया व स्वयं कार्यकर्ताओं के साथ मंच से नीचे बैठे। कार्यकर्ताओं ने जो सुझाव दिए पूर्व सीएम ने उन्हें नोट किया व एक एक कर उनके जवाब भी दिए।दोपहर बाद पूर्व सीएम मंदसौर विधानसभा पहुंचे, जहां वे कांग्रेस के मंडल सेक्टर अध्यक्षों व कार्यकर्ताओं की बैठक में शामिल हुए। उन्होंने मंडल सेक्टर अध्यक्षों से उनके बूथ की जानकारी ली और उनसे कहा कि बूथ स्तर पर पार्टी के कार्यक्रमों को चलाओ। एकजुटता के साथ जनता की लड़ाई लड़ो। संपर्क, संवाद, समन्वय, सामंजस्य व सकारात्मक सोच के साथ संगठन का कार्य करो यही राजनीतिक सफलता के मूल मंत्र हैं। इसके बाद पूर्व सीएम ने महिला कार्यकर्ताओं व नेताओं को मंच पर बैठाया और वे स्वयं ऑडिटोरियम की अंतिम पंक्ति पर जाकर बैठे। कार्यकर्ताओं से संवाद से पूर्व सांसद मीनाक्षी नटराजन जी ने कार्यकर्ताओं को बूथ प्रबंधन से जुड़ी बातें समझाई। इसके बाद कार्यकर्ताओं ने अपनी बातें पूर्व सीएम के समक्ष पुरजोर तरीके से रखीं। लगभग सभी कार्यकर्ताओं ने माना कि कांग्रेस कमजोर नहीं है सिर्फ नेताओं कार्यकर्ताओं के बीच समन्वय और सामंजस्य की आवश्यकता है। पूर्व सीएम ने सभी के सुझाव ध्यान से सुने, उन्हें नोट किया और सभी के सवालों के जवाब भी दिए।सुवासरा और मंदसौर विधानसभा क्षेत्रों की बैठक में कांग्रेस के वरिष्ठ उपाध्यक्ष पूर्व सांसद रामेश्वर नीखरा, पूर्व सांसद मीनाक्षी नटराजन, पूर्व मंत्री सुभाष सोजतिया, पूर्व मंत्री नरेंद्र नाहटा, जिला कांग्रेस के संगठन मंत्री राजेश रघुवंशी, जिला कांग्रेस अध्यक्ष विपिन जैन सहित अन्य कांग्रेस जन उपस्थित थे।

Leave a Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *