Menu

जैन समाज की चेतावनी, गोम्मटगिरि तीर्थ से अतिक्रमण नहीं हटाया तो 50 सीटों से लड़ेंगे विधानसभा चुनाव

11 months ago 0 2

“भरत मोदी, दिगंबर जैन समाज सामाजिक संसद के अध्यक्ष राजकुमार पाटोदी और भगवान बाहुबली दिगंबर जैन ट्रस्ट के अध्यक्ष ने एक मंच पर एक महत्वपूर्ण बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि गोम्मटगिरि तीर्थ के अतिक्रमण को लेकर सरकार द्वारा कोई कदम नहीं उठाया जाता है तो आगामी विधानसभा चुनाव में 50 जैन बहुल सीटों पर उम्मीदवारों को उतारा जाएगा। उन्होंने इसके साथ ही एक बड़े आंदोलन का एलान किया है, जो इंदौर में होगा।
मोदी ने पत्रकारों से चर्चा में यह कहा है कि संत सुधा सागर, संत पुलक सागर, संत प्रमाण सागर, संत आदित्य सागर महाराज ने इस प्रशासनिक व्यवहार के खिलाफ आवाज उठाई है। उन्होंने वीडियो जारी करके चेतावनी दी है। गोम्मटगिरि ट्रस्ट ने 2015 से गोम्मटगिरि तीर्थ क्षेत्र की बाउंड्रीवाल बनाने और अपने गेट लगाने का प्रयास किया है, लेकिन सरकार से कोई मदद नहीं मिली है। गोम्मटगिरि ट्रस्ट को मध्य प्रदेश सरकार द्वारा 42 वर्ष पहले भूमि आवंटित की गई थी। उच्च न्यायालय ने प्रशासन को नवीनीकरण और लीज डीड रजिस्टर करने का आदेश दिया है, लेकिन इसका पालन नहीं हो रहा है। दिगंबर जैन समाज के सदस्यों ने अपने मंदिर के पास अवैध कब्जा कर देवनारायण मंदिर और आने-जाने का रास्ता बनाया है। गुर्जर समाज के कुछ लोग भी इसे आने-जाने के लिए बनाना चाहते हैं। गुर्जर समाज का दावा है कि यह स्थान देवधर्म टेकरी के नाम से पहचाना जाता है और यह समाज के लिए महत्वपूर्ण है।”






Leave a Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *