Menu

टाइटन डूबने के बाद कंपनी ने सभी अभियान बंद किए

11 months ago 0 7

अटलांटिक महासागर में टाइटैनिक जहाज का मलबा दिखाने गई पनडुब्बी हादसे का शिकार हो गई थी, जिसमें सवार 5 लोगों की जान चली गई। ऐसे में इस हादसे से सबक लेते हुए टाइटन सबमरीन कंपनी ओशनगेट (OceanGate) ने अपने सभी ऐसे खोजी अभियान बंद कर दिए हैं।
टाइटन पनडुब्बी अब दुर्घटनाग्रस्त टाइटैनिक जहाज का मलबा दिखाने नहीं जाएगी। कंपनी ने ऐसे सभी ऑपरेशन्स को बंद करने का फैसला किया है। कंपनी ने गुरुवार को कहा कि उसने सभी गतिविधियों को अनिश्चित काल के लिए रोक दिया है।
#पांच लोगों की गई थी जान
हाल ही में 18 जून रविवार को टाइटैनिक का मलबा दिखाने अटलांटिक महासागर में उतरी पनडुब्बी हादसे का शिकार हो गई थी, जिसमें सवार 5 फेमस लोगों की दर्दनाक मौत हो गई थी। मरने वालों में ब्रिटिश अरबपति हामिश हार्डिंग, फ्रेंच डाइवर पॉल हेनरी नार्जेओलेट, ओशनगेट के सीईओ स्टॉकटन रश, पाकिस्तान के सबसे अमीर लोगों में शुसार शहजाद दाऊद व उनके बेटे सुलेमान थे।
#कंपनी ने लिया सबक
दरअसल, टाइटन पनडुब्बी कंपनी ओशनगेट अप्रैल 1912 में डूबे टाइटैनिक जहाज के मलबे को दिखाने के मिशन पर लोगों को लेकर जाती है, जिसके लिए वो काफी भारीभरकम फीस भी लेती हैं, लेकिन हाल में हुए हादसे के बाद कंपनी ने बड़ा कदम उठाते हुए अपने सभी ऑपरेशन निलंबित कर दिए हैं।
अपने बयान में ओशनगेट ने कहा कि टाइटैनिक जहाज के मलबे के मिशन के दौरान पनडुब्बी के हादसे में कंपनी के सीईओ और चार यात्रियों की मौत के बाद सभी खोजी और वाणिज्यिक संचालन को निलंबित कर रहे हैं।
#सीईओ की भी हुई थी मौत
अमेरिका स्थित ओशनगेट ने अपनी वेबसाइट पर कहा कि उसने त्रासदी के दो हफ्ते बाद सभी खोजी और कर्मशियल परिचालन को निलंबित कर दिया है। बता दें कि समुद्री विशेषज्ञों ने पिछले हफ्ते समुद्र तल पर पाए गए मलबे से अनुमानित मानव अवशेष बरामद किए और उन्हें पूर्वी कनाडा के न्यूफाउंडलैंड के सेंट जॉन्स बंदरगाह पर ले जाया गया।
#भारी दबाव के कारण फट गई थी सबमरीन
ऐसा माना जाता है कि जब एक एसयूवी कार के आकार की टाइटन पनडुब्बी, दो मील (लगभग चार किलोमीटर) से अधिक की गहराई पर उत्तरी अटलांटिक के भारी दबाव के कारण फट गई, जिसके बाद उसमें सवार लोगों की तुरंत मृत्यु हो गई।

Leave a Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *