Menu

देवास मिशनरी स्कूल में तिलक लगाने की मना करने पर हिंदू संगठनों ने जताया विरोध

10 months ago 0 6

देवास के एक स्कूल में प्रिंसिपल ने स्टूडेंट्स कोलंबा तिलक नहीं लगाकर आने की हिदायत दी। कुछ बच्चों के माथे पर लगा टीका मिटवा भी दिया। इसकी जानकारी लगते ही हिंदूवादी संगठनों के कार्यकर्ता स्कूल पहुंचे। उन्होंने स्कूल के प्रिंसिपल और मैनेजमेंट के सामने विरोध जताया। क्लासेस में जाकर बच्चों से भारत माता की जय और जय श्री राम के नारे भी लगवाए। मामला ‘होली ट्रिनिटी स्कूल’ से जुड़ा है। तिलक नहीं लगाने की हिदायत गुरुवार को दी गई थी। हिंदूवादी संगठनों के कार्यकर्ता शुक्रवार को स्कूल पहुंचे तो एक छात्र ने बताया कि हमें स्कूल में तिलक लगाने से मना कर दिया गया। कहा गया कि इससे अनकंफर्टेबल फील होता है। वहीं, स्कूल के प्रिंसिपल फादर करोल ने कहा कि उन्होंने बच्चों को सिर्फ छोटा तिलक लगाकर
स्कूल आने को कहा था। तिलक नहीं लगाकर आने की कोई बात नहीं कही गई थी। उन्होंने इस

बात को लेकर माफी भी मांग ली है।बच्चों के परिजन ने हिंदूवादी संगठनों से की शिकायत

होली ट्रिनिटी स्कूल में गुरुवार सुबह असेंबली में प्रार्थना के बाद फादर ने कुछ बच्चों को टीका लगाने पर टोका। कहा कि इसकी जगह छोटा टीका लगाकर ही स्कूल आएं। छुट्टी के बाद बच्चों ने घर जाकर पैरेंट्स से यह बात कही। इनमें से कुछ लोगों ने विश्व हिंदू परिषद, शिव सेना और राम-राम संस्था से संपर्क किया।
शुक्रवार सुबह इन संगठनों के सदस्य नारे लगाते हुए स्कूल पहुंचे। प्रिंसिपल रूम में जाकर उन्होंने इस फैसले के खिलाफ विरोध जताया। स्टाफ और मैनेजमेंट के सामने कहा कि किसी भी स्कूल में ऐसा नहीं होना चाहिए। स्कूल में हंगामे की सूचना मिलते ही नजदीकी थाने से पुलिस भी वहां पहुंच गई।इसी प्रकार की कुछ घटनाएं शामगढ़ स्थित अल्फोंसा स्कूल में भी हुई थी स्कूल प्रशासन ने राखी के त्योहार पर बच्चों से राखियां खुलवाई थी जिस पर स्कूल प्रशासन को माफी मांगना पड़ी थी सोर्स दैनिक भास्कर

Leave a Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *