Menu

मुख्यमंत्री के कार्यक्रम के लिए ग्रामीणों को ला रही बस पलटी, तीन की मौत

12 months ago 0 2

घायल उमरिया जिला अस्पताल में भर्ती, पांच गंभीर, कुछ जबलपुर-कटनी रेफर

कार्यक्रम से पहले अस्पताल आ सकते हैं सीएम

उमरिया। नेशनल हाईवे ओवर ब्रिज के ऊपर टायर फटने के चलते बस अनियंत्रित होकर पलट गई। मुख्यमंत्री के कार्यक्रम स्थल से 5 किमी पहले हुए हादसे में तीन लोगों की मौत हो गई जबकि कई अन्‍य ग्रामीण घायल हो गए हैं। घायलों को उमरिया जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां 5 की हालत गंभीर बताई जाती है।

दो दर्जन से अधिक ग्रामीणों के घायल होने की खबर

इस हादसे में तीन की मौत और दो दर्जन से अधिक ग्रामीणों के घायल होने की खबर है। घटना के बाद से ही 108 की मदद से सभी घायलों को जिला अस्पताल लाया गया है। गंभीर हालत में आए लोगों को प्राथमिक उपचार कर कटनी, जबलपुर रेफर किया जा रहा है। शिवराज सिंह के जिला अस्पताल पहुंचने की खबर से स्वास्थ्य प्रबन्धन भी हाई अलर्ट पर है।

सड़क पर जाम की स्थिति

इस हादसे के बाद सड़क पर जाम की स्थिति बन गई। राहगीरों से सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस सड़क पर लगे जाम को खुलवाने का प्रयास करती रही। कलेक्टर कृष्ण देव त्रिपाठी ने पुष्टि की है कि घटना में 3 लोगों की मौत हुई है आठ लोग उमरिया जिला अस्पताल में भर्ती है। कुछ लोगों को जबलपुर रेफर किया गया है। कार्यक्रम स्थल से पहले सीएम घायलों का हालचाल लेने के लिए अस्पताल आ सकते हैं। मुख्यमंत्री के कार्यक्रम के लिए ला रही थी ग्रामीणों को बताया जा रहा है कि हादसे में घायल हुए लोगों को बस मुख्यमंत्री के कार्यक्रम में शामिल होने के लिए लेकर जा रही थी। हादसे के कारण क़ई अन्य वाहन चालक जाम के कारण फंसे रहे। दुर्घटनाग्रस्त बस का टायर फट गया था, जिसके कारण बस अनियंत्रित होकर हादसे का शिकार हो गई। कई लोग घायल हुए हैं जिनमें पांच की हालत गंभीर बताई गई है। सभी को उमरिया जिला अस्पताल भेजा गया है। काफी मशक्‍कत के बाद पुलिस और स्‍थानीय लोगों ने प्रयास करके बस को हटाया जिसके बाद जाम में फंसे वाहन धीरे-धीरे आगे बढ़ने लगे।

शासकीय नौकरी, 10-10 लाख, घायलों को 5 लाख मुआवजे की मांग

दुर्घटना स्थल पर पहुंचे कांग्रेस जिलाअध्यक्ष अजय सिंह ने प्रदेश सरकार से मृतकों के आश्रितों को शासकीय नौकरी और 10-10 लाख, घायलों को 5 लाख मुआवजे की मांग की है। उन्होंने हादसे को दुर्भाग्यपूर्ण बताया है। कहा, उड़ीसा पासिंग की 30 साल पुरानी बस में कार्यक्रम में भीड़ जुटाने के लिए ढोया जा रहा था जिसके कारण घटना हुई है। कांग्रेस नेताओं ने अस्पताल पहुंचकर घटना के लिए शासन को जिम्मेदार ठहराया।

सीएम के आने की आधिकारिक पुष्टि नहीं

उम्‍मीद जताई जा रही है कि हादसे की जानकारी पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह कार्यक्रम से पूर्व मरीजों से मिलने और उनकी कुशल क्षेम की जानकारी लेने जिला अस्पताल पहुंच सकते है,हालांकि आधिकारिक रूप से इसकी फिलहाल पुष्टि नहीं हो सकी है। हादसे की जानकारी पर एडीजीपी डीसी सागर एवम कमिश्नर राजीव शर्मा जिला अस्पताल पहुंचे है,जहां सभी घायलों से मुलाकात कर हालात का जायज़ा लिया है,और मीडिया को पूरे घटनाक्रम की जानकारी दी है।

सड़क हादसे के अदम्य साहस का परिचय

सड़क हादसे के तुरंत बाद स्थानीय लोग और पुलिस ने दुर्घटनाग्रस्त बस से घायलों को बाहर निकालने में जो अदम्य साहस का परिचय दिया,निश्चित ही मानवीयता की मिसाल है,हालांकि हादसे में तीन लोगों की मौत हो गई, दो दर्जन से अधिक गंंभीर हैं।

Leave a Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *