Menu

पेयजल से जुड़े विभाग जिले में पेयजल की समस्या को तुरंत सामने लाएं : कलेक्टर श्री यादव

1 year ago 0 1

साप्ताहिक अंतर विभागीय समीक्षा बैठक संपन्न कलेक्टर श्री दिलीप कुमार यादव की अध्यक्षता में साप्ताहिक अंतर विभागीय समीक्षा बैठक सुशासन भवन स्थित सभागार में आयोजित की गई। बैठक के दौरान कलेक्टर ने पेयजल से जुड़े सभी विभागों को निर्देश देते हुए कहा कि जिले में कहीं पर भी पेयजल की समस्या होने पर तुरंत सामने लाए। पेयजल से जुड़े सभी विभाग अपनी अपनी रणनीति भी बनाए और बंद हेडपंप का पीएचई विभाग वेरिफिकेशन करें।

सभी एसडीएम एवं तहसीलदारों को निर्देश देते हुए कहा कि जिले में बिना मुंडेर के कुएं एवं खुले बोरवेल अगर पाए जाते हैं, तो उन पर धारा 188 के तहत कार्यवाही करें। कार्यवाही में किसी प्रकार की लापरवाही एवं लेटलतीफी बर्दाश्त नहीं होगी। इस तरह के बिना मुंडेर के कुएं एवं खुले बोरवेल के संबंध में बिना नोटिस दिए सीधी कार्यवाही करें। चाहे वह कुए एवं खुला बोरवेल कहीं पर भी हो। इसके साथ ही सभी तहसीलदार ग्राम पंचायत सचिवों से रिपोर्ट भी ले कि, हमारे ग्राम पंचायत में एक भी कुआं एवं बोरवेल खुला नहीं है। बैठक के दौरान सीईओ जिला पंचायत श्री कुमार सत्यम, अपर कलेक्टर श्री आरपी वर्मा, वन मंडल अधिकारी सहित सभी जिला अधिकारी मौजूद थे। सीएमएचओ को निर्देश देते हुए कहा कि जिले में झोलाछाप डॉक्टरों के विरुद्ध कार्यवाही कर एफआईआर दर्ज करवाएं और प्रतिवेदन भेजें। राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन, सीएमओ एवं सीईओ स्कूल के बच्चों की गणवेश बनाने का कार्य जल्द पूर्ण करें। खेत तालाब बनाने के लिए सभी सीईओ ग्रामीण जनों को प्रेरित करें तथा ग्रामीण क्षेत्रों में अधिक से अधिक के तालाब बनाएं। मुख्यमंत्री लाड़ली बहना योजना के अंतर्गत 1 मई से 30 मई तक आपत्ति सुनने का कार्य किया जाएगा। 30 अप्रैल तक पात्र व्यक्ति आवेदन फार्म भर सकेगा। इसलिए जिले में कोई भी पात्र व्यक्ति आवेदन फार्म भरने से वंचित ना रहे। इसका विशेष तौर पर ध्यान रखें।

Leave a Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *