Menu

जब तक जिंदा हूं मेरी जरुरते पूरी करते रहो इंदौर में पड़ोसन ने कंपनी मालिक से वसूले तीस लाख रुपए

11 months ago 0 4

इंदौर में एक निजी कंपनी के मालिक पर रेप केस कराने वाली महिला खुद फंस गई है। डिमांड पूरी नहीं होने के चलते महिला ने कंपनी मालिक पर परेशान करने और धमकाने का मामला भी दर्ज कराया था। इससे परेशान होकर कंपनी मालिक ने महिला के खिलाफ ब्लैकमेलिंग की शिकायत की है, जिसके बाद से वह फरार है।
अब पढ़िए कैसे महिला ने राहुल शर्मा को फंसाया और रुपए ऐंठती रही
लसूड़िया इलाके की स्कीम नंबर 114 पार्ट-1 में रहने वाले राहुल शर्मा की कंपनी ऑनलाइन बिजनेस करती है। उनके घर के सामने एक शादीशुदा महिला रहती है। महिला का उनके घर आना-जाना था। इस दौरान जान पहचान हुई। मोबाइल नंबर भी एक्सचेंज हुए। मोबाइल पर चैटिंग होने लगी।
राहुल ने जो एफआईआर कराई उसके अनुसार, दिसंबर 2021 में पत्नी बच्चों को लेकर मायके गई थी। इसी दौरान महिला राहुल के घर आई। राहुल ने पत्नी और बच्चों के घर पर नहीं होने की बात कही। इस पर महिला ने कहा कि वह तो उसी से मिलने आई है।
राहुल ने को अवॉइड करने की कोशिश की, लेकिन वह दोस्ती करने की जिद करने लगी। मना करने पर धमकाया कि कहना नहीं मानने पर,वह उसे बदनाम करदेगी। राहुल ने पहले तोराहुल ने महिला को अवॉइड करने की कोशिश की, लेकिन वह दोस्ती करने की जिद करने लगी। मना करने पर धमकाया कि कहना नहीं मानने पर, वह उसे बदनाम कर देगी। राहुल ने पहले तो मजबूरी में उससे दोस्ती कर ली, लेकिन बाद में दोनों के बीच आपसी रजामंदी से शारीरिक संबंध भी बन गए ।
महिला ने अपने मोबाइल से दोनों के कई अंतरंग फोटो-वीडियो बना लिए। इसके बाद उसने राहुल को ब्लैकमेल करना शुरू किया। एक दिन महिला ने राहुल से कहा कि पत्नी को तलाक देकर उससे शादी कर ले। राहुल ने मना कर दिया। यहीं से वसूली का खेल शुरू हो गया।
महिला अपने पति के साथ राहुल शर्मा के घर के सामने रहती थी। पड़ोसी होने के चलते राहुल की महिला से जान पहचान हुई। राहुल विवाहित है और उसके दो बच्चे हैं। रेप केस दर्ज कराने के बाद महिला का पति उसे तलाक दे चुका है। महिला ने कंपनी मालिक से कहा था कि जब तक वो जिंदा रहेगा, उसकी हर डिमांड पूरी करनी पड़ेगी। डिमांड पूरी नहीं करने पर बार-बार जेल भिजवाएगी। रेप केस वापस लेने के एवज में 30 लाख रुपए मांग रही थी
राहुल ने महिला को अवॉइड करने की कोशिश की, लेकिन वह दोस्ती करने की जिद करने लगी। मना करने पर धमकाया कि कहना नहीं मानने पर, वह उसे बदनाम कर देगी। राहुल ने पहले तो मजबूरी में उससे दोस्ती कर ली, लेकिन बाद में दोनों के बीच आपसी रजामंदी से शारीरिक संबंधधमकाया कि कहना नहीं माना तो झूठे केस में फंसाएगी
महिला राहुल को फोटो और वीडियो वायरल करने की धमकी देने लगी। बदनामी के डर से l राहुल घर में ही रहने लगा। उसने खुद को कमरे में बंद कर लिया। इस कारण उसका बिजनेस भी ठप पड़ने लगा। दबाव में आकर उसने 2 जनवरी 2022 को अपने यस बैंक के खाते से 80 हजार रुपए महिला के स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के अकाउंट में ट्रांसफर किए। इसके बाद 4 फरवरी 2022 को 40 हजार रुपए दिए। 2 मार्च को फिर से 40 हजार का अमाउंट ट्रांसफर किया गया। इसके बाद 4 और 6 मार्च 2022 को 40 हजार और 1 लाख रुपए के दो ट्रांसफर किए। ब्लैकमेलर महिला इसके बाद भी नहीं मानी। उसने रेप केस में फंसाने की धमकी दी और ज्वेलरी दिलाने का दबाव बनाने लगी। महिला ने एमजी रोड स्थित आनंद ज्वेलर्स से 1 लाख 78 हजार की ज्वेलरी खरीदी। जिसका पेमेंट ICICI बैंक के क्रेडिट कार्ड से कराया। राहुल भी बन गए ।ICICI बैंक के क्रेडिट कार्ड से कराया।
13 अक्टूबर 2022 को आनंद ज्वेलर्स से ही एक डायमंड रिंग खरीदी। इसका पेमेंट भी राहुल ने ही किया। इसके बाद 28 अक्टूबर 2022 को पंजाब ज्वेलर्स राजबाड़ा से 1 लाख 82 हजार के सोने के कंगन खरीदे। आरोपी महिला की डिमांड बढ़ती जा रही थी। इससे परेशान होकर राहुल ने जब उसकी बातों को मानने से इनकार कर दिया। जिसके बाद वह फिर उसे ब्लैकमेल करने लगी।
महिला ने अपने मोबाइल से दोनों के कई अंतरंग फोटो-वीडियो बना लिए। इसके बाद उसने राहुल को ब्लैकमेल करना शुरू किया। एक दिन महिला ने राहुल से कहा कि पत्नी को तलाक देकर उससे शादी कर ले। राहुल ने मना कर दिया। यहीं से वसूली का खेल शुरू हो गया।।

नंबर ब्लॉक किया तो रेप केस में फंसाया

राजीव ने नवंबर 2022 में ब्लैकमेलर महिला का मोबाइल नंबर ब्लॉक कर दिया। इसके बाद पत्नी को पूरी बात बताई। 8 दिसंबर 2022 को महिला ने लसूड़िया थाने में राहुल शर्मा के खिलाफ रेप का केस दर्ज करा दिया। अगले दिन राजीव को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।
हाईकोर्ट से मिली जमानत, फिर की शिकायत
राहुल को 20 जनवरी 2023 को हाईकोर्ट से जमानत मिल गई। जेल से छूटने के बाद भी महिला राहुल से मिलने का प्रयास करती रही। 6 फरवरी 2023 को स्कीम नंबर 54 में जब राहुल अपने पिता के साथ एसयूवी गाड़ी से पहुंचा तो ब्लैकमेलर महिला पीछा करते हुए वहां आ गई। यहां उसने जबरन बात करने का दबाव बनाया और पुलिस बुलाने की धमकी देने लगी।
राहुल जैस-तैसे उसके चंगुल से निकलकर बिल्डिंग में पिता के पास गया। बाद में ड्राइवर को गाड़ी घर ले जाने के लिए कहा। यहां ब्लैकमेलर महिला ने अपने साथियों को बुलाया और कार का पीछा कर रास्ते में रोका। गाड़ी खाली मिलने पर ड्राइवर से राहुल के बारे में जानकारी लेने लगी।
14 फरवरी को राहुल जब अपनी दोनों बेटियों को छोड़ने घर के पीछे बस स्टैंड पर पहुंचा तो वहां भी ब्लैकमेलर महिला पहुंच गई। उसने फिर से बात करने का प्रयास किया। 11 मार्च 2023 को महिला राजीव के घर के सामने आकर खड़ी हो गई। करीब आधे घंटे तक वहीं डटी रही। पत्नी ने डर के कारण दरवाजे लगा दिए। इसके बाद 22 मार्च 2023 को राहुल पत्नी और दो बेटियों के साथ खाना खाने प्रैस्टीज कॉलेज के पास बापू की कुटिया रेस्टोरेंट पर पहुंचे तो यहां भी ब्लैकमेलर महिला आ गई। रेस्टोरेंट में ही राहुल की पत्नी और आरोपी महिला के बीच बहस हुई।रेप केस वापस लेने के बदले मांगने लगी 30 लाख
राहुल ने महिला से कहा कि वह उसे काफी रुपए और ज्वेलरी दे चुका है और अब कुछ नहीं देगा। महिला ने कहा कि जब तक वह जिंदा रहेगा, उसके कहे मुताबिक रुपए देने होंगे, उसकी मांगें पूरी करनी पड़ेगी। नहीं करने पर वह उसे बार-बार जेल भिजवाती रहेगी। रेप केस वापस लेने के लिए उसने 30 लाख रुपए मांगे।
राहुल के इनकार करने पर 7 अप्रैल को महिला ने विजय नगर थाने में परेशान करने और धमकाने की शिकायत कर दी। जिसमें राहुल ने अग्रिम जमानत ले ली। इसके बाद राहुल ने पूरे सबूत इकट्ठा कर अपने वकील के माध्यम से ब्लैकमेलर महिला के खिलाफ लिखित शिकायत की। पूरे मामले की शिकायत सीएम हेल्पलाइन और लसूड़िया पुलिस से भी की। वरिष्ठ अफसरों के आदेश के बाद बुधवार को इस मामले में लसूड़िया पुलिस ने केस दर्ज कर लिया। सोर्स दैनिक भास्कर

Leave a Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *